क्या ITALY इन लासो को कोई हाथ नहीं लगा रहा !!

क्या ITALY इन लासो को कोई हाथ नहीं लगा रहा !!!

आज कल इंटरनेट पे जोभी किसी चीस को वायरल होने में थोड़ी भी देर नहीं लगती, और सबसे ज्यादा व्हाट्सप्प पर , एक फोटो या फिर वीडियो को हजारो लोको तक पोहोचने में कुछ मिनिट लगता है पर क्या वो सब चीज़ सचमे है या फिर एक गलत न्यूज़ है। इसी बात को हम आपको बताएँगे हमारे इस पोस्ट में " क्या है जुठ और क्या है सच "

इस वायरल photo को देखिये 

( इन् photo में दावा किया किया गया है की ये इटली की तस्वीर है जिनलोगो को कोरोना वायरस हुआ और उन् लोगो की मौत हो गयी है वहा की गोवेर्मेंट उन् लासो को हाथ भी नहीं लगा रही है  )



अब जानिए इस फोटो के पीछे की सच्चाई 

हमने इस photo को गूगल रेवेर्स  सर्च में सर्च किया  और हमें ये जानने को मिला की नातो यह  फोटो इटली की है और न तो ये फोटो इटली के किसी सहर की है। हुए आपको जानके हैरानी हो गई की ये फोटो में जो लोग दिख रहे है वो सभी लोग जिन्दा है। और  ये लास तो बिलकुल  नहीं है।

सच्चाई   

जर्मनी का एक सहर है फ्रैंकफर्ड 26 मार्च 2014 को ये photo लिया गया था। नाज़ी कंसन्ट्रेशन कैंप चलाया गया यहूदी लोगो के द्वारा उन् लोगो के लिए जिनको हिटलर की सेना पहले मारा करती थी और मार कर वही पे दफना भी देती थी। तो उसी के चलते ये लोग अफ़सोस जताने के लिए यहाँ पर एकठा हुए थे कर सहीदो को सरधांजलि दियी गयी थी 

क्या आप के पास भी आ रही है इसी तरह की photo और  मेसेजेस उस चीज़ की सच्चाई जानने के लिए हमें भेजिए वो फोटो , वीडियो या फिर ऑडियो hindifactsshala आपतक पोहचा एहि सही information 
 sachhai.hf@gmail.com



Latest
Next Post
Related Posts